दरगाह आला हज़रत की गली में मुसलमान के घर ख़रीदने से बरपा हो गया हंगामा

0
153

The Leader. यूपी के बरेली में सुन्नी बरेलवी मुसलमानों के मरकज़ दरगाह आला हज़रत पर एक मकान को लेकर तनाज़ा खड़ा हो गया है. सुबह निर्माण के दौरान तनतनी को देखते हुए अफसर फोर्स के साथ यहां पहुंच गए. तहक़ीक़ात शुरू कर दी. इल्ज़ाम है कि मंदिर को मकान बताकर बेचा गया है. यह गली में दरगाह आला हज़रत के पास ही स्थित है. इसे लेकर अदालत में मुक़दमे भी विचाराधीन हैं. जिन्होंने यह जगह बेची है, वो दिल्ली के रोहिणी में रहते हैं. इन दोनों पति-पत्नी संदीप शर्मा और रचना शर्मा के ख़िलाफ़ तहरीर भी दी गई है.


बकरीद पर नाजिश को योगी सरकार ने दी नई जिंदगी, किडनी ट्रांसप्लांटआयुष्मान भारत योजना के तहत मुफ्त में हुआ


बताया जा रहा है कि दरगाह से जुड़ी एक शख़्सियत ने यह जगह अपने किसी मुरीद के नाम से ख़रीदी है. इल्ज़ाम यह भी है कि गुरुवार को सुबह संग-ए-बुनियाद रखे जाने के दौरान मूर्तियों को हटायाजा रहा था. यह बात फैलने के बाद ही भीड़ इकट्ठा हुई. हिंदू संगठन भी विरोध का हिस्सा बन गए लेकिन पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए स्थिति को संभाल लिया. सीओ ने मौक़े पर ही सभी लोगों से कह दिया कि क़ानून व्यवस्था से किसी को खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा. इस सिलसिले में चार लोगों को हिरासत में लिए जाने की बात सामने आई है. तहरीर में माहौल ख़राब करने इत्यादि के गंभीर इल्ज़ाम लगाते हुए मुक़दमा दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है. इसे लेकर हिंदू संगठनों से जुड़े लोगों की कोतवाली में भीड़ इकट्ठा हो गई. करणी सेना के पदादिकारियों का कहना था कि पुलिस को तत्काल ही कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए. इस तरह की हरकतें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी.


फ़ैज़ाबाद से आई शहादत पर दरगाह आला हज़रत से किया गया ईद का एलान


इसी तरह एक बार पहले भी दरगाह आला हज़रत के पास हिंदू परिवार का घर मुस्लिम के ख़रीदने से कुछ वक़्त पहले हंगामा हो चुका है. तब पलायन के पोस्टर भी दीवारों पर चस्पा कर दिए गए थे. अब मकान को लेकर तनाज़ा खड़ा होने का यह दूसरी मामला है. पुलिस ने सावन माह के शुरू हो जाने को देखते हुए तय किया है कि विवादित जगह पर किसी तरह का कोई निर्माण नहीं कराया जाएगा. बाद में दोनो पक्षों को बैठाकर बात की जाएगी. संभावना जताई जा रही है कि पूर्व की तरह इस मामले में भी पैसा वापस कराने के प्रयास शुरू हो गए हैं.