बरेली में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने महिला उद्यमियों को किया सम्मानित

0
276

द लीडर हिंदी: उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल सोमवार सुबह हेलीकॉप्टर से त्रिशूल एअरबेस पहुंचीं. यहां से राज्यपाल मुड़िया अहमद नगर स्थित दिशा इंटर कॉलेज में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंची.

इसके बाद राज्यपाल रुहेलखंड विश्वविद्यालय के अटल सभागार में पहुंचीं। यहां रुहेलखंड विश्वविद्यालय में स्थापित इंक्यूबेशन फाउंडेशन समेत सात परियोजनाओं का उद्घाटन किया और महिला उद्यमी सम्मेलन काे संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने उद्यमियों को सम्मानित भी किया.

इससे पहले विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केपी सिंह समेत अन्य पदाधिकारियों ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का स्वागत किया. कार्यक्रम में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, विशिष्ट अतिथि नेपाल के महेंद्रगढ़ में वेस्टर्न यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार प्रोफेसर यज्ञ राज पाठक, तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी मुरादाबाद के कुलपति प्रोफेसर रघुवीर सिंह, कविशा मोटर्स की चेयर पर्सन शारदा भार्गव मौजूद रहे.

महिला उद्यमी सम्मेलन को संबोधित करते हुए राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि आज के इस दौर में लगातार महिलाएं हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं. जिस देश की महिला सशक्त होगी वह देश सशक्त माना जाता है. लगातार महिलाओं की हर क्षेत्र में भागीदारी देश के विकास को बढ़ा रही है.

महिलाओं को स्वयं का विकास, परिवार का विकास और देश का विकास करने का दायित्व उठाना है. समय बदल गया है. उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में गर्भ संस्कार पाठ्यक्रम शुरू किया जाए। इसके लिए अंक भी निर्धारित किए जाएं।

उन्होंने कहा कि जब बच्चा 3 साल का होता है तो आंगनवाड़ी या शिशु मंदिर विद्यालय से शिक्षा हासिल करता है. 5 साल के बाद दूसरी जगह प्राथमिक शिक्षा ग्रहण करता है. अाज के दौर में पढ़ाई का स्तर बिल्कुल बदल चुका है. शिक्षा की नेशनल पॉलिसी में कई अहम बदलाव आए हैं. अब शिक्षा में योग, व्यायाम आदि को शामिल किया गया है. बच्चों को प्राथमिक शिक्षा मातृभाषा में दी जा रही है. इससे वह अपनी मातृभाषा को अच्छे से समझ सके.