सावधान: गर्मी में ना करें पैक्ड जूस का सेवन, फायदे की बजाय होगा ये नुकसान

0
24

द लीडर हिंदी : बढ़ती गर्मी और चिलचिलाती धूप ने लोगों को परेशान करना शुरू कर दिया है. धूप और गर्मी की वजह से शरीर में पानी की कमी होने लगती है.इस गर्मी में खुद को तरोताज़ा रखने के लिये लोग ठंडे पेय पदार्थों का इस्तेमाल करते है. अक्सर लोग कोल्ड ड्रिंक्स, सॉफ्ट ड्रिंक्स या फिर फ्रिज का पानी पीने लगते हैं. इससे आपके शरीर को कुछ समय के लिए गर्मी से राहत मिल सकती है.लेकिन ये ड्रिंक्स सेहत को नुकसान पहुंचा सकते हैं.इसके साथ ही देश के बड़े शहरों के साथ ही ग्रामीण इलाकों में पैक्ड (डिब्बाबंद) जूस पीने का चलन बढ़ा है.

बहुत से ऐसे लोग हैं, जो शौक से पैक्ड जूस का इस्तेमाल करते हैं. जूस सेहत के लिये काफी फायदेमंद साबित होता है. लेकिन ताजा. गर्मी में शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जूस पीना बेहद जरूरी होता है.वही विशेषज्ञों की माने तो डिब्बाबंद जूस की बजाए ताजे फलों का सेवन ज्यादा बेहतर होता है. क्योंकि यह पैक्ड जूस आपकी सेहत को फायदे की बजाय नुकसान पहुंचाता है.दरअसल, फलों में प्राकृतिक मिठास और रंग होता है, इसलिए उसमें अलग से मिठास और कृत्रिम रंग मिलाने की जरूरत नहीं होती. एक साइड से ली गई जानकारी के मुताबीक डॉक्टर बताया कि डिब्बे वाले जूस में ज्यादा मीठापन होता है, जो स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाता है.

अक्सर छोटे बच्चे और बुजुर्ग लोग डिब्बे वाला जूस पीते हैं, जिसमें शुगर की मात्रा बढ़ी होती है जो स्वास्थ्य के लिए सही नहीं है, इससे कम उम्र में मोटापे जैसी अन्य बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है. पोषक तत्वों में कमी आ जाती है, जिससे आपका वजन बढ़ सकता है.

वही डाक्टर ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि प्राकृतिक फल और सब्जियों की तुलना में यह डिब्बाबंद जूस तेजी से वजन बढ़ाता है. डिब्बाबंद जूस का सेवन न करें, क्योंकि ये जूस रिफाइंड शुगर से बने होते हैं, जो डायबिटिक लोगों के लिए ठीक नहीं है. भले ही इसमें शुगर फ्री की सूचना दी गई हो, तब भी डायबिटीज मरीजों को इससे पर हेज करना चाहिए. लंबे समय तक सुरक्षित और कलर देने के लिए कृत्रिम रंगों का इस्तेमाल किया जाता हैं. कई बार ये रंग सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकते हैं.

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नाशपाती, सेब, चेरी जैसे कुछ फलों में सॉर्बिटॉल जैसी शुगर मौजूद होती है, जो आसानी से पचती नहीं, कभी-कभी परेशानी सामने ला सकती है. सॉर्बिटॉल एक कार्बनिक अल्कोहल है जिसे चीनी या मिठास के लिए खाने और टूथपेस्ट जैसी चीजों में इस्तेमाल किया जाता है. इस कृत्रिम चीनी का इस्तेमाल आजकल बहुत सी चीजों में हो रहा है.अगर पैक्ड जूस की जगह पर गर्मियों में ज्यादा से ज्यादा ताजे फल और उनका जूस लस्सी आदि का सेवन अच्छा रहता है.कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित और एसिडिटी से राहत के लिए छाछ का इस्तेमाल कर सकते हैं.छाछ हमारी सेहत को काफी फायदा पहुंचाती है.

ये भी पढ़ें-https://theleaderhindi.com/suv-car-fell-into-a-deep-ditch-in-ramban-district-10-people-died/