हाईस्कूल की परीक्षा देकर निकले छात्र-छात्राओं के चेहरे पर दिखी खुशी की लहर

0
87

द लीडर हिंदी : 22 फरवरी से यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं शुरू हो गई हैं. पहली पाली में दसवीं के विद्यार्थियों ने परीक्षा दी. बृहस्पतिवार को सुबह साढ़े आठ बजे से शुरू हुई यूपी बोर्ड की वार्षिक परीक्षाओं के तहत हाईस्कूल का पहला पेपर शांतिपूर्वक संपन्न हो गया. पौने 12 बजे परीक्षा देकर बाहर निकले छात्र-छात्राओं के चेहरे पर सुकून के साथ-साथ खुशी की लहर दिखाई दी.बतादें इस साल योगी सरकार ने नकलविहीन परीक्षा कराने के लिए व्यापक इंतजाम किए हैं.

दूसरी पाली में इंटरमीडिएट की परीक्षा का हिंदी का पेपर होगा। गोंडा जिले के फखरुद्दीन अली अहमद राजकीय इंटर कॉलेज और राजकीय बालिका इंटर कॉलेज, रोजवुड इंटर कॉलेज, बालपुर के राष्ट्रीय इंटर कॉलेज समेत 143 केंद्रों पर हाईस्कूल और इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन हुआ। हाईस्कूल के हिन्दी विषय परीक्षार्थी सुबह साढ़े आठ बजे से केंद्रों पर परीक्षा शुरू हुई। इस दौरान सघन तलाशी के बाद परीक्षा केंद्रों पर अभ्यर्थियों को प्रवेश दिया गया है। वहीं सचल दलों के साथ ही ऑनलाइन मानिटरिंग की गई है. दूसरी पाली में दोपहर दो बजे से इंटरमीडिएट का सैन्य विज्ञान का पेपर है। शाम 5:15 बजे तक विद्यार्थी परीक्षा देंगे।

बता दें 22 फरवरी से नौ मार्च तक यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं चलेंगी. परीक्षा देकर निकले छात्रों ने बताया कि हिन्दी का पेपर अच्छा रहा. हमने पूरे प्रश्नों का उत्तर लिखा है. वही कुछ छात्रों ने बताया कि कुछ प्रश्न कठिन लगे लेकिन उन्हें भी पूरा लिखा है.वही विद्यालय में पेपर देने के बाद बाहर निकलीं छात्राओं ने बताया कि हिन्दी का पहला पेपर बहुत कठिन नहीं रहा. सारे प्रश्न सामान्य रहे.

https://theleaderhindi.com/lok-sabha-elections-2024-after-up-deal-deal-in-delhi-also-almost-fixed-i-n-d-i-a-alliance-strong/

यूपी बोर्ड की परीक्षाएं बृहस्पतिवार को 117 केंद्रों पर शुरू हो गई हैं. पहली पाली में घने कोहरे के बीच सुबह से ही सभी परीक्षा केंद्रों पर हाईस्कूल के परीक्षार्थियों का पहुंचना शुरू हो गया था. वही केंद्र पर पहुंचे छात्र छात्राओं ने सबसे पहले नोटिस बोर्ड पर चस्पा सूची से अपने रोल नंबर के जरिए कक्ष की जानकारी ली. इसके बाद केंद्र पर तैनात महिला एवं पुरुष शिक्षकों ने परीक्षकों की गहन तलाशी ली.परीक्षा में नकल ना हो इस पर खास ध्यान दिया गया है.

बोर्ड के निर्देशों के मुताबीक सुबह 8.30 बजे हिंदी की परीक्षा शुरू कराई गई. नकल बिन पठित परीक्षा संपन्न करने के लिए जोनल सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं पांच सचल दलों ने परीक्षा केंद्रों का भ्रमण कर हर कक्षा की सघन तलाशी ली. वहीं कंट्रोल रूम से पल पल की निगरानी की जा रही है.

फिलहाल सभी केंद्रों पर परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से हो रही है. पहली पाली में 44500 बच्चे हाईस्कूल की परीक्षा दे रहे हैं. वही इस बार प्रदेश के 8265 केंद्रों पर 55.25 लाख से अधिक विद्यार्थी परीक्षा दे रहे हैं. परीक्षा में सेंधमारी, किसी भी तरह की गड़बड़ी, अफवाह फैलाने और मिलीभगत करने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों पर भी एफआईआर दर्ज कराकर उन्हें जेल भेजा जाएगा. इस वर्ष परीक्षाएं मात्र 12 कार्य दिवसों में ही संपन्न होंगी.