सानिया मिर्ज़ा ने किया संन्यास का ऐलान, जानें कब और कहां खेलेंगी करियर का आखिरी मैच

0
186

द लीडर | भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा ने बुधवार को घोषणा की कि 2022 उनका अंतिम सत्र होगा क्योंकि उनका शरीर ‘थक रहा’ है और उनके अंदर प्रत्येक दिन के दबाव के लिये ऊर्जा और प्रेरणा अब पहले जैसी नहीं है। सानिया (35 वर्ष) ने मार्च 2019 में बेटे के जन्म के बाद टेनिस में वापसी की थी लेकिन कोरोना वायरस महामारी उनकी प्रगति के आड़े आ गयी। सानिया ने अपनी जोड़ीदार नादिया किचनोक के साथ आस्ट्रेलियाई ओपन के महिला युगल के पहले दौर में हारने के बाद संन्यास की यह घोषणा की।

सानिया ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘इसके लिये काफी सारे कारण हैं। यह इतना सरल नहीं है कि ‘ओके अब मैं खेलूंगी नहीं’। मुझे महसूस हो रहा है कि मुझे उबरने में लंबा समय लग रहा है। मुझे महसूस होता है कि मेरा बेटा अभी तीन साल का है और मैं उसके साथ इतनी यात्रा करके उसे जोखिम में डाल रही हूं, और यह ऐसी चीज है जिसका मुझे ध्यान रखना होगा।”


यह भी पढ़े –Uttarakhand Elections : पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत नहीं लड़ेंगे चुनाव, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को लिखा पत्र


शरीर थक रहा है

सानिया ने मार्च 2019 में बेटे के जन्म के बाद टेनिस में वापसी की थी, लेकिन कोरोना वायरस महामारी उनकी प्रगति के आड़े आ गई। सानिया ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘इसके लिए काफी सारे कारण हैं। यह इतना सरल नहीं है कि ‘ओके अब मैं खेलूंगी नहीं’। मुझे महसूस हो रहा है कि मुझे उबरने में लंबा समय लग रहा है। मुझे महसूस होता है कि मेरा बेटा अभी तीन साल का है और मैं उसके साथ इतनी यात्रा करके उसे जोखिम में डाल रही हूं, और यह ऐसी चीज है जिसका मुझे ध्यान रखना होगा।’

घुटनों में हैं परेशानी

सानिया मिर्जा ने कहा, ‘मेरा शरीर भी अब कमजोर हो रहा है। आज मेरे घुटने में सचमुच काफी दर्द हो रहा है। मैं यह नहीं कह रही हूं कि इसके कारण ही हम हारे, लेकिन मुझे ऐसा लगता है कि मुझे उबरने में थोड़ा समय लग रहा है क्योंकि मेरी उम्र बढ़ रही है।’ उनके अंदर प्रत्येक दिन के दबाव के लिए ऊर्जा और प्रेरणा अब पहले जैसी नहीं है।

विवादों से रहा नाता

1999 में विश्व जूनियर टेनिस चैम्पियनशिप से अपने करियर की शुरुआत करने वाली सानिया मिर्जा का विवादों से भी गहरा नाता रहा है। वर्ष 2005 में उन पर एक अपने ही समुदाय ने उनके खेलने के विरुद्ध फ़तवा जारी कर दिया था। बाद में ‘जमात-ए-इस्लामी हिन्द’ नामक संगठन ने कहा था कि उन्हें उनके खेलने से कोई परहेज नहीं है, लेकिन वह चाहते हैं कि खेलते समय सानिया ड्रेस कोड का ध्यान रखें।  सानिया ने 12 अप्रैल 2010 को शोएब मलिक से निकाह किया था। तब भी उनके निकाह को लेकर कई लोगों ने कड़ी प्रतिक्रियाएं भी की थी।

बुधवार को ही सानिया ने गंवाया मैच

बता दें कि भारत के रोहन बोपन्ना और सानिया मिर्जा बुधवार को अपने पहले दौर के मैच गंवाने के कारण ऑस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस प्रतियोगिता में क्रमश: पुरुष और महिला युगल के पहले दौर से बाहर हो गए। सानिया और यूक्रेन की उनकी जोड़ीदार नादिया किचनोक स्लावानिया की तमारा जिदानसेक और काजा जुवान की जोड़ी से एक घंटे 37 मिनट में 4-6, 6-7(5) से हार गई।

भारत में महिला टेनिस की सबसे बड़ी स्टार

35 साल की सानिया मिर्जा भारत की सबसे बड़ी महिला टेनिस स्टार रही हैं, जिन्होंने अपने नाम कई खिताब किए साथ ही लड़कियों की एक पूरी पीढ़ी को प्रेरणा दी है। सानिया मिर्ज़ा ने डबल्स में ऑस्ट्रेलियन ओपन, विंबल्डन, अमेरिकी ओपन का खिताब जीता है। जबकि मिक्स डबल्स में भी सानिया मिर्ज़ा ने ऑस्ट्रेलियन ओपन और अमेरिकी ओपन को अपने नाम किया है। टेनिस कोर्ट के अलावा भी सानिया मिर्ज़ा लगातार सुर्खियों में बनी रही हैं। पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से शादी हो या करियर के शुरुआती दिनों में कभी राष्ट्र गान को लेकर विवाद या फिर कपड़ों को लेकर टिप्पणियां, सानिया मिर्ज़ा हमेशा ही सुर्खियों में बनी रही हैं।


(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here