आर्यन खान को क्रूज़ ड्रग्स केस में अरेस्ट करने वाले समीर वानखेड़े का हुआ तबादला

0
141

द लीडर | बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान से जुड़े क्रूज ड्रग्स केस से चर्चा में आए मुंबई NCB के पूर्व जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े का सोमवार को तबादला कर दिया गया। उन्हें DRI से चेन्नई DG टैक्स पेयर सर्विस निदेशालय भेजा गया है। NCB चार्जशीट में आर्यन खान को क्लीन चिट मिल गई है। इसके बाद से ही जांच अधिकारी समीर वानखेड़े के खिलाफ कड़ा एक्शन लेने की बात कही जा रही थी। सूत्रों के मुताबिक सरकार ने वानखेड़े के खिलाफ उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे।


यह भी पढ़े –पीएम किसान योजना 11वीं किस्त, किसानों के बैंक अकाउंट में डाले गए 21000 करोड़ रुपये


जांच के लिए विशेष जांच टीम गठित की थी

इस मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के अधिकारियों पर महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक द्वारा आरोप लगाए जाने के बाद एनसीबी मुख्यालय ने इस मामले की जांच के लिए के लिए एक विशेष जांच टीम गठित की थी। इस स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम ने अपनी जांच के दौरान अनेक महत्वपूर्ण बिंदुओं पर जांच की जिसमें शामिल था कि क्या गिरफ्तारी के समय आर्यन खान के पास से कोई मादक पदार्थ बरामद हुआ था? क्या वे ड्रग सिंडिकेट का हिस्सा थे? उनकी गिरफ्तारी के समय उन पर एनडीपीएस कानून लागू होता था या नहीं? गिरफ्तारी के समय नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के मानकों का पालन किया गया था या नहीं?

26 दिन बाद मिली थी जमानत

आर्यन खान की गिरफ्तारी के बाद मन्नत में मातम सा छा गया था और शाहरूख खान अपने बेटे को जेल की चार दिवारी से निकालने की जुगत में जुट गए थे। हालांकि 26 दिन बाद शाहरुख खान के बेटे को जमानत मिल गई थी। उस वक्त जूही चावला ने बेल बॉन्ड पर दस्तखत किए थे। इसके बाद शाहरूख खान की वकीलों के साथ एक तस्वीर सामने आई थी। जिसमें संघर्ष की दास्तां दिखाई दे रही थी। आर्यन खान की गिरफ्तारी 2 अक्टूबर को हुई थी।

कौन हैं समीर वानखेड़े ?

समीर वानखेड़े 2008 बैच के आईआरएस अधिकारी हैं, जो आर्यन खान को गिरफ्तार करने के बाद सुर्खियों में आए थे। बीते अक्टूबर में समीर वानखेड़े के नेतृत्व में एक टीम ने मुंबई तट के पास एक क्रूज जहाज पर छापेमारी के दौरान कथित तौर पर मादक पदार्थ बरामदगी का दावा किया था और अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन समेत अन्य लोगों को गिरफ्तार किया था।

वानखेड़े अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद कथित तौर पर बॉलीवुड हस्तियों को शामिल करने वाले ड्रग सिंडिकेट के खिलाफ कार्रवाई के लिए जाने जाते हैं। 2020 में, रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी से लेकर दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर, सारा अली खान और रकुल प्रीत सिंह जैसी हस्तियों को उनके कथित व्हाट्सएप चैट के आधार पर तलब करने और पूछताछ करने तक, वानखेड़े सभी एनसीबी जांचों के शीर्ष पर थे। साथ ही, भारती सिंह, और पति हर्ष लिम्बाचिया और प्रीतिका चौहान जैसी टीवी हस्तियां भी ड्रग केस में रडार पर थी।

अभिनेता अरमान कोहली को NCB ने अगस्त 2021 में नशीली दवाओं के सेवन के आरोप में गिरफ्तार किया था। गिरफ्तारी और छापेमारी एनसीबी के मुंबई प्रमुख समीर वानखेड़े की देखरेख में की गई थी।

NCB के DG ने माना था- गलती हुई

एनसीबी के डीजी ने कहा था कि जांच में चूक और प्रक्रिया का पालन नहीं करने वाले अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। एनसीबी के डीजी एसएन प्रधान ने भी ये माना था कि इस मामले में समीर वानखेड़े और उनकी टीम से गलती हुई। सूत्रों ने ये भी कहा था कि सरकार ने समीर वानखेड़े की गलत जांच के लिए उचित कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। अब एनसीबी के जोनल डायरेक्टर रहे और मामले की जांच करने वाले समीर वानखेड़े की एनसीबी से विदाई हो गई है। समीर वानखेड़े के तबादले को आर्यन खान केस की जांच में चूक और प्रक्रिया का पालन न करने को लेकर हुए एक्शन के तौर पर देखा जा रहा है।

(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)