Friday, April 16, 2021
Homeदमदार ख़बरेंख़ास ख़बरदरगाह आला हजरत के सज्जादानशीन बोले, नरसिंहानंद और वसीम रिजवी दहशतगर्द, सरकार...

दरगाह आला हजरत के सज्जादानशीन बोले, नरसिंहानंद और वसीम रिजवी दहशतगर्द, सरकार दोनों को जेल भेजे

द लीडर. दरगाह आला हजरत के सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन रजा कादरी ने नरसिंहानंद सरस्वती और वसीम रिजवी की जुबानदराजी पर सख्त एतराज जताया है. कहा है कि दोनों जिस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं, उससे मुल्क के अमन को खतरा पैदा हो गया है. भाईचारे को नुकसान पहुंच रहा है. उन्होंने कहा कि सस्ती शोहरत के लिए समाज को बांटने की कोशिश करने वाले दोनों दहशतगर्दों को सरकार जेल भेजे.

सज्जादानशीन ने दरगाह के मीडिया प्रभारी नासिर कुरैशी की तरफ से जारी बयान में कहा है कि कट्टरपंथी इस्लाम, क़ुरान और पैगम्बर-ए-इस्लाम पर गलत बयानबाजी कर रहे हैं. ये शरपसंद इस्लाम के खिलाफ अभ्रद भाषा का प्रयोग करके मुल्क में अराजकता का माहौल पैदा करने की कोशिश में लगे हैं.


मौलाना आजाद के नक्शेकदम पर चलकर मुसलमानों को आधुनिक शिक्षा से जोड़ने वाले इकलौते मौलाना हैं वली रहमानी


मुफ्ती अहसन मियां ने कहा कि ऐसे लोग मुल्क की एकता और भाईचारे के भी दुश्मन हैं. नफ़रत की राजनीति करके लोगों को बांटने का काम करने वाले वसीम रिज़वी हो या नरसिंहानंद सरस्वती इनके खिलाफ हुक़ूमत स्वतः संज्ञान लेकर सख्त से सख्त कार्रवाई करे. इन लोगों की सही जगह जेल है.

चेतावनी देते हुए कहा कि अगर हमारे नबी कि इज़्ज़त की बात आएगी तो मुसलमान खुद अपना सर कटा सकता है लेकिन अपने मज़हब, अपने क़ुरान और अपने रसूल की अज़मत पर रत्ती भर भी आंच न आने देगा. वसीम रिजवी और नरसिंहानंद की बयानबाजी से मुल्क के उलमा, दानिशवर और मुसलमानों में बेहद आक्रोश है.


नरसिंहआनंद के नफरती एजेंडे के साथ खड़े उनके भक्त, मुसलमानों के खिलाफ धमकी भरा वीडियो वायरल


इन दोनों पर शासन व प्रशासन कार्रवाई नहीं करता है तो मुसलमानों को सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन करने पर मजबूर होना पड़ेगा. सज्जादानशीन के साथ ही दरगाह के इन प्रमुख उलमा मुफ्ती कफील हाशमी, मौलाना ज़ाहिद रज़ा, मौलाना बशीर उल क़ादरी, कारी रिज़वान रज़ा आदि ने भी गलत बयानबाजी की मज़म्मत (निंदा) की है.

(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments