#HappyHoli ताकि कोरोना रंग में भंग न डाले

0
104

लखनऊ | इस साल होली का पर्व बड़ी सावधानी पूर्वक मनायें क्योंकि कोरोना का घातक प्रभाव अभी पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है, बल्कि कोरोना की दूसरी लहर बनकर और घातक होकर सामने आया है।

इस बार कोरोना के नियमों का पालन करते हुए होली मिलन समारोह आयोजित करें। The Leader Hindi आप सभी को होली की शुभकामनाएं देता है। हम चाहते हैं खुशियों के इस पर्व में रंग में भंग न पड़े, इसलिए कुछ सावधानियां ज़रूर बरते।

यह भी पढ़े – उत्तर प्रदेश में बढ़ता कोरोना : लखनऊ पर छाए संकट के बदल

1. होली खेलने के लिए कम से कम सदस्यों को आमंत्रित करें।

2. मात्र 30 से 45 मिनट का ही आयोजन करें।

3. प्रत्येक उस सदस्य को ही आमंत्रित करें जो मास्क लगाकर आने को तैयार हो।

4. सदस्यों से न गले मिलें और न हाथ मिलायें. बस हाथ जोड़कर नमस्कार करें। प्रेम और आदर के साथ स्वागत करें।

5. सामाजिक दूरी का अनुशासन से पालन करें।

यह भी पढ़े – बांग्लादेश दौरे पर पीएम मोदी ने कर दिया ‘खेला’

6. मिलन स्थल पर सैनिटाइजर से हाथ अवश्य साफ करवायें।

7. खाद्य पदार्थ की स्वच्छता का पालन करने वाले मिष्ठान विक्रेता से ही समान खरीदें।

8. किसी पर दवाब न डालें कि वो अवश्य ही कुछ खाये।

9. समारोह मात्र कुशलक्षेम पूछने, कुछ फोटो खिंचवाने, मुस्कुराहट से स्वागत करने और आपसी भाईचारा बढ़ाने के लिए ही हो।

10. ना गीले रंग लगाएं, न लगाने दें।

11. रंगभरे गुब्बारे वैसे ही खतरनाक हैं, कोरोना काल में तो सोचना भी अपराध है।

12. सिर्फ कपड़े के मास्क रखें और कई रखें, ताकि गीला होने की दशा में बदला जा सके।

यूपी में भी होली पर रोक

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य में होली को लेकर दिशानिर्देश जारी कर चुके हैं। उन्होंने एक बैठक के बाद यह फैसला लिया है कि सार्वजनिक स्थानों पर होली खेलने पर रोक रहेगी. साथ ही बिना स्थानीय प्रशासन की अनुमति के किसी भी जुलूस कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाए। साथ ही इन कार्यक्रमों में 10 वर्ष से कम, 60 वर्ष से अधिक की आयु के लोगों को शामिल होने से रोका जाएगा।

यह भी पढ़े – जलवायु शिखर सम्मेलन में पुतिन, जिनपिंग के साथ मोदी भी होंगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here