मोदी का बांग्लादेश दौरा – हर कदम की पूरी जानकारी

0
156

ढाका | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी दो दिवसीय बांग्लादेश यात्रा पर ढाका पहुंच चुके हैं। ढाका एयरपोर्ट पर बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने उनका स्वागत किया । उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया। पीएम मोदी दो दिवसीय दौरे में विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। शाम में वह बांग्लादेश की स्वतंत्रता की स्वर्ण जयंती और बंगबंधु शेख मुजीबुर्रहमान की जन्म शताब्दी को लेकर मनाए जाने वाले भव्य कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। कोरोना वायरस महामारी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यह पहला अंतरराष्ट्रीय दौरा है।

मोदी के बांग्लादेश दौरे की अभी तक की अपडेट

  • PM मोदी का स्वागत

  • ढाका पहुंचने पर पीएम मोदी को दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर

  • ढाका में भारतीय समुदाय के लोगों से मिले पीएम मोदी

 

मोदी बांग्लादेश दौरे पर अपने साथ कोरोना वायरस वैक्सीन की दस लाख डोज लेकर गए हैं। भारत की तरह बांग्लादेश भी कोरोना महामारी से जूझ रहा है। भारत ने अबतक करीब 71 देशों को कोरोना वैक्सीन की डोज दी हैं।

पीएम मोदी ‘मुजीब बोरशो’ यानी बांग्लादेश के राष्ट्रपिता शेख मुजीब उर रहमान की जन्म शताब्दी, राजनयिक संबंधों के 50 साल और बांग्लादेश मुक्ति संग्राम के 50 साल पूरे होने के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। अपनी बांग्लादेश यात्रा के दौरान पीएम मोदी अपनी समकक्ष शेख हसीना के साथ बातचीत करेंगे। इस दौरान दोनों देशों के बीच कई समझौतों पर हस्ताक्षर किए जाने की संभावना है। बता दें पीएम मोदी पिछले साल बंगबंधु शेख मुजीब उर रहमान के जन्म शताब्दी समारोह में शामिल होने वाले थे, लेकिन कोरोनो वायरस महामारी के कारण उनकी यात्रा रद्द हो गई थी।

मुतआ समुदाय के मंदिर जाएंगे पीएम
बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री मतुआ समुदाय के संस्थापक हरिश्चंद्र ठाकुर के मंदिर भी जाएंगे। ठाकुर का जन्म एकीकृत बंगाल में साल 1812 में हुआ था। मतुआ समुदाय के लोग उन्हें भगवान का अवतार मानते हैं। ठाकुर ने सामाजिक सुधार करते हुए छूआछूत के खिलाफ अभियान चलाया। आगे चलकर समाज में मतुआ समुदाय ने अपनी पहचान बनाई। ठाकुर के निधन के बाद उनके बेटे गुरुचंद ठाकुर इस समुदाय के संरक्षक बने।

बांग्लादेश से चलकर बंगाल आए मतुआ समुदाय की आबादी करीब दो करोड़ बताई जाती है। राज्य में इस समुदाय के लोग मतुआ महासंघ के तहत संगठित हैं। यह समुदाय इस बार के चुनाव में करीब 30 सीटों को प्रभावित कर सकता है। मतुआ समुदाय के लोग करीब 70 विधानसभा क्षेत्रों में पाए जाते हैं।

पीएम बोले- होगी अहम चर्चा
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि बांग्लादेश की दो दिवसीय यात्रा के दौरान शेख हसीना के साथ अलग-अलग मुद्दों पर ‘गहन चर्चा’ करेंगे। प्रधानमंत्री ने इस बात पर खुशी जताई की पिछले साल कोविड-19 महामारी की शुरुआत के बाद उनकी पहली विदेश यात्रा ऐसे पड़ोसी मित्र देश की हो रही है, जिसके साथ भारत के गहरे संबंध हैं।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here