सिनेमा के शौकीनों के लिए द्वीप पर अकेले सात दिन तक फिल्में देखने का ऑफर

0
359

स्वीडिश फिल्म फेस्टिवल की ओर से कोरोना विश्व महामारी के हालात को देखते हुए प्रशंसकों के लिए अनोखा ऑफर किया है।

स्वीडन का गोटेबोर्ग (गोथनबर्ग या योटोबॉय भी कहते हैं) फिल्म फेस्टिवल सोशल डिस्टेंसिंग का अजीबोगरीब प्रयोग करने जा रहा है। दूरस्थ द्वीप पर शॉर्टलिस्ट की गई फिल्मों को देखने का मौका जीतने वाले फिल्म प्रशंसक के लिए खास प्रस्ताव मिलेगा।

इस प्रस्ताव में उत्तरी सागर में एक किसी अलग-थलग द्वीप पर अकेले 7 दिन बिताना है और फिल्में देखना है। फिल्म प्रशंसक को उन आवेदकों में से चुना जाएगा जिन्होंने गोटेबोर्ग की वेबसाइट पर आवेदन किया होगा।

चुने गए आवेदक को स्वीडन के पश्चिमी तट से दूर एक छोटे से चट्टानी द्वीप पैटर नोस्टर पर भेजा जाएगा। वहां ठहरने के लिए लाइट हाउस को लग्जरी होटल में तब्दील किया गया है।

ये भी पढ़ें – क्यों हिंदी सिनेमा जगत को बॉलीवुड कहा जाता है

स्वीडिश फिल्म फेस्टिवल लाइटहाउस में एक स्क्रीनिंग रूम स्थापित करेगा, जहां आगंतुक 60 फिल्मों तक की स्क्रीनिंग कर सकते हैं ऐसी फिल्में जो आधिकारिक तौर पर 2021 के संस्करण के लिए चुनी गई हैं।

यहां आपको कुछ नहीं ले जाना है, न फोन, न लैपटॉप, कॉपी, न कलम। सबकुछ मिलेगा, जिसकी आपको जरूरत हो सकती है। मसलन, स्वादिष्ट भोजन, पेय, साफ-सुथरा आरामदायक बिस्तर। फेस्टिवल के निर्देशक जोनास होल्म्बर्ग कहते हैं, ” वहां आप लहरों को देख सकते हैं और फिल्मों को देख सकते हैं।”

होल्म्बर्ग कहते हैं कि सफल आवेदक को कुछ मानदंडों को पूरा करना होगा, “उन्हें एक फिल्म के लिए उत्साही होना होगा; उन्हें प्रयोग के बारे में एक दैनिक वीडियो ब्लॉग रिकॉर्ड करने के लिए सहमत होना होगा और उन्हें इस तरह से अलगाव में एक सप्ताह बिताने के लिए भावनात्मक और मनोवैज्ञानिक रूप से खुद को तैयार करना होगा।”

ये भी पढ़ें – सत्यजित रे की ‘अपुर संसार’ 26वें कोलकाता अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में प्रदर्शित की जाएगी

इस विचार पर होल्म्बर्ग ने कहा, “हम सभी अब अलगाव में फिल्में देख रहे हैं और इससे फिल्मों के साथ हमारे संबंध बदल जाते हैं। हमने लॉकडाउन अवधि में नए प्रकार की फिल्में देखी हैं। इस तरह फिल्में एक अलग अर्थ ले लेती हैं। एक दृश्य जहां लोग किसी अजनबी को गले लगाते हैं, वह एक पल में बहुत अलग लगता है जब आप ऐसा नहीं कर सकते। ”

2021 गोटेबोर्ग उत्सव 29 जनवरी से 8 फरवरी के बीच ऑनलाइन होगा। यह गोटेबोर्ग के ड्रैकन सिनेमा में और शहर के 12 हजार क्षमता वाले आइस हॉकी स्टेडियम में अलगाव और एक-व्यक्ति की फिल्म स्क्रीनिंग की पेशकश करेगा।

कोरोनोवायरस महामारी के बीच गोटेबोर्ग फिल्म फेस्टिवल सामाजिक दूरी की थीम पर केंद्रित है। महोत्सव में दिखाई जाने वाली फिल्मों में महामारी के दौर में दुनिया और उसके प्रभाव उकेरा गया है। लॉकडाउन अवधि के दौरान और बाद में वेनिस में मॉलिक्यूलर, एंड्रिया सेग्रे के डॉक्यूमेंट्री शॉट में इनमें शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here