मुख्तार अंसारी- वो बख्तरबंद थी या एम्बुलेंस!

0
152

लखनऊ। बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी मुश्किले दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है। पंजाब की मोहाली कोर्ट में पेश होने के बाद जिस एम्बुलेंस में मुख्तार रोपड़ जेल गया उस एम्बुलेंस पर विवाद खड़ा हो गया है। जानकारी के मुताबिक ये नंबर उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले का है और ये एम्बुलेंस बाराबंकी के एक निजी अस्पताल की निकली.

मुख्तार अंसारी जिस एम्बुलेंस से मोहाली कोर्ट में आया तो यूपी के बाराबंकी नंबर की एम्बुलेंस पर सबकी निगाहें जाकर टिक गई। क्योंकि एम्बुलेंस का नंबर ही अपने आप मे चौकाने वाला था। उस एम्बुलेंस का नंबर UP 41 AT 7171 था। तो स्वाभविक था लोग ये कयास लगा रहे थे कि मुख्तार उसी दिन यूपी आएगा लेकिन ऐसा नही हुआ। मुख्तार को वापस रोपड़ भेज दिया गया। आखिर सवाल यही है कि यूपी की एम्बुलेंस पंजाब में क्या कर रही थी, जब पता चला तो यह नंबर राजधानी लखनऊ से सटे बाराबंकी जिले का था।

ये भी पढ़ें- यूपी पुलिस सॉरी, फिलहाल नही आएगा मुख्तार अंसारी

एम्बुलेंस बाराबंकी के श्याम सन अस्पताल के नाम पर रजिस्टर्ड है. लेकिन इसका रजिस्ट्रेशन 3 साल पहले खत्म हो चुका है. इस एम्बुलेंस के मालिक का नाम डॉ. अलका राय है. परिवहन विभाग में एम्बुलेंस मालिक का दिया गया नंबर भी गलत निकला।

वहीं डॉ अलका राय ने अपनी सफाई देते हुए कहा हमने कोई एम्बुलेंस मुख्तार को नही दिया और न ही मुख्तार अंसारी से कोई सम्बन्ध है । मेरा कोई हॉस्पिटल बाराबंकी में नही है ।

ये भी पढ़ें- कोरोना से लखनऊ विश्विद्यालय के प्रोफेसर की मौत, विश्विद्यालय में डर का माहौल 

अब ये बाद में सवाल आता है कि निजी अस्पताल की यह एम्बुलेंस मुख्तार अंसारी तक कैसे पहुंची, इस पर पता चला कि इसे मुख्तार अंसारी ने निजी तौर पर किराए पर ले रखा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here