क्या बन पाएगी बंगाल में भाजपा की सरकार ? पीएम ने खुद दिया जवाब

0
254

कलकत्ता | पश्चिम बंगाल में पांचवें चरण का मतदान जारी है और दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी दौर के चुनाव के लिए रैली कर रहे हैं। पीएम मोदी बंगाल के आसनसोल को मिनी इंडिया बताते हुए कहा कि साइकिल से लेकर रेल, कागज से लेकर स्टील और एल्यूमिनियम से लेकर कांच तक पूरे भारत के लोग ऐसी फैक्टरियों में काम करने के लिए यहां आते हैं।

बंगाल में बन रही भाजपा की सरकार

पीएम मोदी ने आगे कहा कि पांचवें चरण के मतदान में भी कमल के फूल पर बटन दबाकर, भाजपा की सरकार बनाने के लिए भारी संख्या में मतदान हो रहा है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि बंगाल में जो सरकारें रहीं, उनके कुशासन ने आसनसोल को कहां से कहां पहुंचा दिया।

संविधान से खुद को ऊपर समझती हैं ममता – पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर आरोप लगाया कि वह खुद को देश के संविधान से ऊपर समझती हैं और दावा किया कि तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ने केंद्रीय बलों और सेना तक को ‘‘बदनाम’’ किया और राजनीति के लिए झूठे आरोप लगाए।

यह भी पढ़े – फिर दिखने लगी 2020 की तस्वीर, लॉकडाउन के डर से प्रवासी मजदूरों का पलायन शुरू

पीएम मोदी ने कूचबिहार हिंसा पर ममता बनर्जी के वायरल ऑडियो को लेकर खरी खोटी भी सुनाई

इस दौरान पीएम मोदी ने कूचबिहार हिंसा पर ममता बनर्जी के वायरल ऑडियो को लेकर जमकर खरी खोटी भी सुनाई। उन्होंने कहा कि, कूचबिहार में जो हुआ, उस पर कल एक ऑडियो टेप आपने सुना होगा। 5 लोगों की दुखद मृत्यु के बाद दीदी किस तरह राजनीति कर रही हैं, ये इस ऑडियो से सामने आता है।

इस ऑडियो में कूचबिहार के टीएमसी नेता को कहा जा रहा है कि मारे गए लोगों के शवों के साथ रैली करो। उन्होंने आगे कहा कि दीदी, वोटबैंक के लिए कहां तक जाएंगी आप? सच्चाई ये है कि दीदी ने कूचबिहार में मारे गए लोगों की मृत्यु से भी अपना सियासी फायदा करने की सोची। शवों पर राजनीति करने की दीदी को बहुत पुरानी आदत है।

यह भी पढ़े – अमेरिका में गोलीबारी : मरने वाले 8 लोगों में 4 सिख शामिल

‘खंड खंड हुई TMC’

पीएम मोदी ने कहा, ‘चार चरणों के मतदान में, टीएमसी खंड खंड हो गई है. मां, माटी और मानुस की बात करनी वाली दीदी से बंगाल में गुंडाराज फैला दिया है. अवैध कोयला खनन का साम्राज फैला हुआ है. खनिजों को यहां काला माल कहा जाता है और वो किस किस तरह पहुंचता है वो सबको पता है.’

केंद्र की ओर से बुलाई गई बैठकों में ममता नहीं आईं – मोदी

उन्होंने कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने अनेक बार अनेक विषयों पर बात करने के लिए बैठकें बुलाई है लेकिन दीदी कोई न कोई कारण बताकर इन बैठकों में नहीं आती हैं। कोरोना वायरस को लेकर बुलाई गई पिछली दो बैठकों में बाकी मुख्यमंत्री आए, लेकिन दीदी नहीं आई।’’ उन्होंने कहा यही नहीं, नीति आयोग की संचालन परिषद और गंगा की सफाई के लिए बुलाई गई बैठकों में भी वह नहीं आईं।

यह भी पढ़े – #DelhiCorona : JNU में कोरोना के 11 नये मामले, छात्रों से हॉस्‍टल खाली करने की अपील

उन्होंने कहा, ‘‘एक दो बार ना आने तो समझ में आता है, लेकिन दीदी ने यही तरीका बना लिया है। दीदी बंगाल के लोगों के लिए कुछ देर का समय नहीं निकाल पाती हैं। यह उन्हें समय की बर्बादी लगता है।’’

दीदी ने विकास के नाम पर विश्वासघात किया: PM

पीएम ने आरोप लगाते हुए कहा, ‘विकास और आपके बीच में दीदी दीवार बनकर खड़ी हो गईं. केंद्र सरकार ने जो काम किया तीन तलाक खत्म किया, किसानों की दोगुना आय पर काम किया तो दीदी दीवार बनकर खड़ी हो गई. किसान सम्मान निधि बंगाल के किसानों के नहीं मिलने दी गई.’

यह भी पढ़े – यूपी में10 नए ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना,सीएम का निर्देश स्वास्थ्य मंत्री रखें नजर

ममता बनर्जी को बताया किसान विरोधी

पीएम मोदी ने आगे कहा कि केंद्र सरकार ने किसानों को बिचौलियों से मुक्त करने वाले कानून बनाए, तो दीदी विरोध में उतर आईं। केंद्र सरकार ने किसानों के बैंक खातों में सीधे पैसे ट्रांसफर करने शुरू किए, तो दीदी ने इससे भी किसानों को वंचित रखा।

यह भी पढ़े – इन 7 में एक भी पाप करने वाला मुसलमान भी काफिर जैसा ही समझो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here