थाने के बहार लिखा था ‘बीजेपी कार्यकर्ताओं का थाने में आना मना है’ : अखिलेश यादव ने कसा तंज

0
213

द लीडर | जब से विधानसभा सत्र शुरू हुआ है तब से सदन के अंदर हो या बाहर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव लगातार योगी सरकार पर हमलावर हैं. अखिलेश कभी शब्दों के जरिए हमला करते हैं तो कभी तंज कसते हैं. उत्तर प्रदेश के मेरठ में शुक्रवार को अलग ही नजारा देखने को मिला. मेडिकल थाने की दीवार पर एक बड़ा सा बैनर लटका हुआ था और इस पर लिखा हुआ था कि बीजेपी कार्यकर्ताओं का थाने में आना मना है. इस ट्वीट के बाद अखिलेश यादव सोशल मीडिया पर छाए हुए हैं.

अखिलेश ने ट्वीट के जरिए कसा योगी सरकार पर तंज

थाने पर टंगे इस बैनर को ट्वीट कर एसपी नेता अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर एक ट्वीट करते हुए तगड़ा हमला बोला है. अखिलेश ने ट्वीट करते हुए बीजेपी सरकार के मजे लिए हैं.


यह भी पढ़े – Bihar : हिना शहाब को राज्यसभा न भेजने से नाराज़ समर्थकों की आरजेडी से बग़ावत


जान‍िए क्‍या है पूरा मामला

मेरठ के मेड‍िकल थाने में शुक्रवार को एक दुकान के विवाद में थाने पहुंचे भाजपाइयों ने पुलिस पर अभद्रता करने का आरोप लगाते हुए विरोध स्वरूप थाने की दीवार पर बैनर लगा दिया. जबकि पुलिस का कहना है कि भाजपा कार्यकर्ता दुकान के विवाद में दबाव बना रहे थे. थाने की दीवार पर लगे बैनर पर लिखा था कि, थाने पर भाजपा कार्यकर्ताओं का आना मना है.

पोस्टर में क्या लिखा है?

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने मेरठ के मेडिकल थाने की फोटो ट्वीट करते हुए लिखा कि ‘ऐसा पहली बार हुआ है इन पांच-छह सालों में सत्तापक्ष के लोगों का आना मना हुआ थानों में ये है उप्र की भाजपा सरकार का बुलंद इक़बाल!’ तस्वीर में थाने में एक पोस्टर पर लिखा हुआ था, जिस पर ‘भाजपा कार्यकर्ताओं का थाने में आना मना है’ पोस्टर में आगे थाना प्रभार संतशरण सिंह का नाम लिखा हुआ है.

पोस्टर लगाने वालों पर होगा एक्शन

मामले को लेकर एसपी ने कहा कि वीडियो से प्रमाणित होता है कि पुलिस की छवि को धूमिल करने के उद्देश्य से कुछ लोग पोस्टर लेकर थाने आए और उनके द्वारा ही ऐसा काम किया गया। मामले में पूरे प्रकरण की जांच की जा रही है. जल्द ही पोस्टर कहां छपा और यहां कैसे आया इस पूरी बात का खुलासा किया जाएगा. उसके बाद नियमानुसार कार्रवाई होगी.

(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)