लक्षद्वीप के समंदर से लाई जा रही 1526 करोड़ की 216 किलो हेरोईन DRI ने किया जब्त

0
176

द लीडर | समंदर में ड्रग्स की एक और बड़ी खेप को कोस्टगार्ड ने डीआरआई की मदद से जब्त किया है. लक्षद्वीप के करीब समंदर में ऑपरेशन खोजबीन के तहत डीआरआई और इंडियन कोस्टगार्ड ने 1526 करोड़ की 219 किलो हेरोइन जब्त की है. पिछले एक साल में डीआरआई ने समंदर में स्मगलिंग के लिए लाई जा रही करीब 25 हजार करोड़ की नारकोटिक्स ड्रग बरामद की है. मिली जानकारी के मुताबिक, 7 मई को डीआरआई यानि डायरेक्टरेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलीजेंस को गुप्त सूचना मिली थी कि लक्षद्वीप के करीब समंदर में ड्रग्स की एक बड़ी खेप भारत की सीमा में पहुंचने वाली है.

अरब सागर में निगरानी शुरु कर दी गई

इसी सूचना पर डीआरआई ने इंडियन कोस्टगार्ड की मदद ली. कोस्टगार्ड के जहाज, आईसीजीएस सुजीत पर डीआरआई के अधिकारी भी तैनात किए गए और तभी से अरब सागर में निगरानी शुरु कर दी गई. 18 मई को डीआरआई ने कोस्टगार्ड की मदद से दो संदिग्ध बोट्स, प्रिंस और लिटिल-जीसस की तलाशी ली तो उनमें एक-एक किलो के 219 पैकेट मिले. इन सभी पैकेट्स में गैर-कानूनी हेरोइन भरी हुई थी. पूछताछ में दोनों बोट्स के क्रू ने बताया कि ड्रग्स की ये खेप उन्हें समंदर में ही मिली थी. ड्रग्स मिलने के बाद डीआरआई और कोस्टगार्ड दोनों बोट्स को कोच्चि ले आए हैं. यहां पर डीआरआई पकड़े गए क्रू-मेम्बर्स से कड़ी पूछताछ करेगी ताकि ये पता लगाया जा सके कि हेरोइन की ये खेप कहां से आई है और भारत में कहां भेजी जानी थी.


यह भी पढ़े –बिहार में आंधी-तूफान-बिजली गिरने से 16 ज़िलों में अब तक 33 लोगों की मौत


दो बोट पर थी सारी हेरोइन

लक्षद्वीप के पास अरब सागर में एजेंसी को दो संदिग्ध बोट नजर आती हुयी दिखायी दीं. दोनों बोट को पकड़ा गया जिनके नाम थे Prince और Little Jesus. DRI और Coast Guard ने दोनों पकड़ी गयी बोट की तलाशी ली और उसमें बरामद हुयी 218 किलो हेरोइन, जिसकी कीमत 1526 करोड़ रुपये है.

पिछले एक साल में 3800 किलो ड्रग्स जब्त की

डीआरआई के मुताबिक, पिछले महीने यानि अप्रैल 2022 से लेकर अबतक ये चौथी बड़ी ड्रग्स की खेप है जो भारत में पकड़ी गई है. अगर पिछले एक साल की बात करें तो यानि अप्रैल 2021 से लेकर अबतक 3800 किलो की ड्रग्स देश की समुद्री सीमाओं से लेकर अलग-अलग एयरपोर्ट पर जब्त की जा चुकी है. इंटरनेशनल मार्केट में इस पकड़ी गई ड्रग्स की कीमत करीब 26 हजार करोड़ है. वहीं कोस्टगार्ड ने भी पिछले तीन सालों में समंदर में अलग-अलग ऑपरेशन्स में करीब तीन टन नारकोटिक्स ड्रग जब्त की है जिसकी कीमत करीब 12,206 करोड़ है.

पकड़ी गई ड्रग्स की बड़ी खेप- 

10 मई 2022- दिल्ली कार्गो एयरपोर्ट पर 62 किलो हेरोइन जब्त.

20 अप्रैल 2022- कांडला पोर्ट (गुजरात) में 20.6 किलो जिप्सम पॉउडर जब्त किया गया.

29 अप्रैल 2022- पीपाव पोर्ट (गुजरात) पर धागे में लिपटी 396 किलो हेरोइन पकड़ी.

सितबंर 2021- गुजरात के मुंद्रा पोर्ट पर 3000 किलो हेरोइन जब्त.

जुलाई 2021- नाहवा शेवा पोर्ट से 293 किलो हेरोइन जब्त.

अप्रैल 2021- तूतीकोरीन बंदरगाह से 303 किलो कोकीन जब्त (अबतक की सबसे बड़ी कोकीन की खेप).

फरवरी 2021- दिल्ली के तुगलकाबाद से 34 किलो हेरोइन.

(आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)